मेरे गांव का नाम गंदा है इसे बदल दीजिये मोदीजी

संजीव तोमर

फतेहबाद. जनपद में एक गांव का नाम बेहद शर्मिंदगी भरा है लिहाजा गांव की एक बच्ची हरप्रीत कौर को यह नाम इतना खला की उसने खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखकर मामला उनके संज्ञान में डाला. उधर पीएमओ कार्यालय से एक लेटर भेजकर बच्ची द्वारा संज्ञान में लाए गये इस मामला मे जानकारी मांग गांव का नाम बदलने संबधी आदेश भेजे गये हैं. इसके बाद ग्रामीण कुछ आस के साथ खुशी का इजहार कर रहे है और अपने गांव के नाम बदलने की मांग भी कर रहे हैं ताकि भविष्य मे उनके गांव का नाम लोग अदब से तो ले ही साथ ही उन्हें भी लज्जा भी महसूस न हो. हरप्रीत महज बारह साल की आठवीं कक्षा की गरीब घर की छात्रा है उसके मन में अक्सर अपने गांव के नाम को लेकर कशमकश चलती रहती थी चूंकि उसने इस बारे परिजनों से बातचीत की. फिर एक लेटर लिख प्रधानंमंत्री को इस बारे अवगत करवाया. बेटी के इस प्रयास से गांव बेहद उत्साहित है और हो भी क्यों न बिटिया ने गांव में बदलाव लाने का बीड़ा जो उठाया था. गौरतलब है की फतेहाबाद जिला हेडक्वाटर से करीब 50 किलोमीटर दूर पंजाब के बॉर्डर से सटे गांव गंदा के इस नाम से कई सालों से ग्रामीण इसका नाम बदलने को लेकर कई बार प्रशासन और सरकार से गुहार लगा चुके थे लेकिन इस गांव का नाम गंदा ही रहा.

टिप्पणी भेजें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक क्षेत्रः चिह्नित कर रहे हैं *


Leak Story
Rajpur Road, Dehradun, Uttrakhand

Leak Story

Back to Top